Aug. 14, 2015

5

"प्यार के दो मीठे बोल से ही खरीद लो मुझे,
दौलत की सोचोगे, तो पूरी दुनिया बेचनी पड़ेगी.

मैनें कहा ... आज झूठ का दिन है,
दोस्तों...
वो मुस्कुरा कर बोली...

य गुजरात सरकार भी अजब हे,
जंगल मे सिंह की माहिती मंगाती हे अाैर,
साैराषट में 'DALVADI' की !!!!!!!!!!

तेरी गली से गुजर रहा था तो सोचा उन खिङकियोँ को
सलाम कर दूँ......
जो कभी मुझे देख कर खुला करती थी......

इंसान के जिस्म का सबसे खूबसूरत हिस्सा दिल है और अगर वोही साफ़ ना हो तो चमकता चेहरा किसी काम का नहीं

कोई ठुकरा दे तो हँसकर जी लेना,
क्यूँकि मोहब्बत की दुनिया में
ज़बरजस्ती नहीं होती...!!!

तू सबसे # अच्छी है
क्यूंकि तू_#सच्ची है इसलिये अपुन तेरे पे
# खच्ची है ..

काश आँसुओ के साथ यादे भी बह सकती,
तो एक दिन तसल्ली से बैठ कर रो लेते!!😊

हम तो आशिक लोग है.....
हमारे हाथो मे जख्म पहले लिखे जाते है तकदीर बाद में.

मत सोच इतना जिन्दगी
के बारे में ,
जिसने जिन्दगी दी है उसने भी तो कुछ सोचा होगा...

गुजर रहा था अपनी पुरानी #Atmiy के पास तो
सोचा की ऊन#€lass_Room को एक सलाम
करलु,..........जहा एक#Timeपे कोई थी जो हर सुबह
हमारा इंतजार करती थी 😎

प्रेमिका नी जेम वरसवानु कह्युं हतु
आ तो पत्नीनी जेम तुटी पड्यो😃😀☔

प्यार की फितरत भी अजीब है यारा...
बस
जो रुलाता है,
उसीके गले लग कर
रोने को दिल चाहता है...!!!

ये ना पूछ मैं शराबी क्यू हुआ,,
बस यूँ समझ ले
"गमों के बोझ से नशे की बोतल
सस्ती लगी"______

"दो बातें इंसान को अपनों से दूर कर देती हैं,
एक उसका 'अहम' और दूसरा उसका 'वहम'......

स्वभाव रखना है...तो...उस दीपक की तरह
रखो...जो बादशाह के महल में भी उतनी
रोशनी देता है...जितनी किसी गरीब की झोपड़ी में...

“क्या करोगे और बर्बाद मुझे अब तुम...,
कि राख को कभी आग से जलाया नहीं जाता...।”

"आरजू थी की तेरी बाँहो मे, दम निकले,
लेकिन बेवफा तुम नही,बदनसीब हम निकले...!"

एक बार देखा था उसने मेरी तरफ मुस्कुराते हुए,
बस! इतनी सी हकीकत है, बाकी सब
कहानिया है…

#💧पानी_ने_दारू_बनावु🍷 #दारू_नो_परब_बनावु🚰 #आतो_हु_पितो_नथी_एटले🚱 #बाकी-🏡🏡 Botad ने पण 🏡🏡🏄_Gova-बनावु.

☺☺☺...."पत्थर तो बहुत मारे थे लोगों ने मुझे...
लेकिन जो दिल पे आ के लगा वो किसी अपने का था."....😊😊😊

खुद ही पैसे दो और खुद ही कटोरा हाथ में ले लो...
•अजीब शौक है गोलगप्पे खाने का...!!!

घणी प्रेम कहानी बस ऐटला माटे अधुरी रही जाय छे के छोकरी ना गाममा युनीनोरनो टावर नथी होतो.

ऐसे मत देख👀 पगली👸 जानता हूँ, 👱मैं Cute😍 हूँ, तू ❤दिल हार जाएगी,
बस कर अब और ✖मत देख, वरना मेरी Mummy से मार खाएगी..😊☺

वो सो जाते हैं अक्सर हमें याद किये बगैर , हमें नींद नहीं आती उनसे बात किये बगैर , कसूर उनका नहीं कसूर तो हमारा है , उन्हें चाहा भी तो हमने उनकी इजाजत के बगैर .

मुझे जानू कहने वाली गर्ल फ्रेंड
नही भी मिली तो चलेगा पर.......
मुश्किल वक़्त पे भाई कहने वाला दोस्त होना चाइये....✔

दादागिरी तो हम मरने के बाद भी करेंगे ,
लोग पैदल चैलेगे और हम कंधो पर ..!!

❤👌❤कुछ इसलिए भी पंसद आते है सच बोलने वाले लोग
कि वो खुद टुट जाते है मगर किसी का दिल टुटने नही देते..👌❤👌

मेरा यही अंदाज़ इस ज़माने को खलता है....!
की ये साला इतना टूटने के बाद भी सीधा कैसे
चलता है....!!

ज़ख्म जब मेरे सीने के भर जाएंगे; आंसू भी मोती बन के बिखर जाएंगे;
ये मत पूछना किसने दर्द दिया; वरना कुछ अपनों के सर झुक जाएंगे।

#‎उससे‬ कह दो कि मेरी सज़ा कुछ कम कर दे,
हम पेशे से मुज़रिम नहीं हैं बस गलती से इश्क हुआ था !!!!!

ए खुदा मोहूबत भी तूने अजीब चीज बनाए है,
तेरे ही बन्दे तेरी मस्जिद में तेरे ही सामने रोते है,
लेकिन तुजे नहीं किसी और को पानेके लिये.

आज तेरी याद हम सीने से लगा कर रोये ..
तन्हाई मैं तुझे हम पास बुला कर रोये कई बार पुकारा इस दिल मैं तुम्हें और हर बार तुम्हें ना पाकर हम रोये

मेरे सारे "कसूरों" पर भारी मेरा एक "कसूर" है .
मैं उसे "पसंद" करता हूँ बस इसी बात का उसे "गुरूर" है

पता नहीं आखीर इस देश का क्या होगा भगतसिंह भी चले गये.....चन्द्रशेखर भी नहीं रहे!.....आजकल मेरी भी तबीयत कुछ खराब है!😂😂😂

दिवारोंसे उतरकर परछाईयां बोलती है,
दिलसे निकलकर रूसवाईयाँ बोलती है,

एक आहट को तरस जाते हैं कान,
के कोई ना बोले तो ये तन्हाईयाँ बोलती है

जितना भी सितम देने हैं इस बार ही देदो.
तेरी किस्मत इतनी भी अच्छी नही हैं कि तुझे हम हर जन्म मे मिले....

“क्या थी मजबूरी तेरी,जो रास्ते बदल लिए तूने...,
हर राज कह देने वाले...जरा ये वजह भी बता दी होती...

पेहले तो बहोत शोख था तुम्हे मेरा हाल पुछने का तो बताओ अब क्या हुआ.??
हम वो नही रहे या दिन वो नही रहे.??"